No icon

तमिलनाडु के मदुरई से भारतीय पुरातत्व विभाग को खुदाई में मिला एक शहर

तमिलनाडु के मदुरई से भारतीय पुरातत्व विभाग को खुदाई में मिला एक शहर

2200 साल पुराने तमिलनाडु के पण्ड्यास सभ्यता और रोमन साम्राज्य के साथ व्यापार होता था .

तमिलनाडु के मदुरई से १२ कम दूर की झाड़ी नामक जगह पर भारतीय पुरातत्व विभाग को खुदाई में मिला एक ऐसा शहर जिसका रोम के साथ व्यापार होने का पता चलता है .

दोस्तों हम सभी ने पढ़ा होगा की व्हेनसांग ने इस देश की खोज की , मार्कोपोलो ने इस देश की खोज की . लेकिन क्या आप अंदाज़ा लगा सकते है की हज़ारों साल पहले भी इस धरती पर ऐसी सभ्यता थी जिनका कई देशों के साथ व्यापार होता था . भरी पूरी सम्पन्न सभ्यता . जो किसी कारण वश ख़त्म हो गयी .
हमसे जायदा उन्नत सभ्यताएं .ऐसी ही एक सभ्यता थी पंड्या , तमिलनाडु की , जिसकी खुदाई में कुछ ऐसी चीजें मिली है . कुछ ऐसे हथियार . आभूषण , मिटटी के बर्तन लोहे के चाकू , तीरें , हथियारों के टूटे हुए टुकड़े . मोती , टेराकोटा की टाइल्स . हाथ से बानी हुई ईटें . आदि इन सबकी जब कार्बन डेटिंग की गयी तो पता चला की ये सारी चीजें करीब २२०० साल पुरानी है . और ये सभ्यता एक सम्पन्न सभ्यता थी .
हम से पहले भी इस धरती पर उन्नत सभ्यताएं थी जिनका कई देशों के साथ व्यापार होता था . और वो लोग आते जाते थे एक दूसरे के देशों में .

जो समय के काल के कारण लुप्त हो गए .. ......... तो अपने इतिहास पर गर्व करें दोस्तों और हमारे पेज को अधिक से अधिक लिखे और शेयर करें

all picture credit:thehindu.com

picture credit: frontline

 

 

Comment