photography

धान लगाने का मौसम आ गया है, a short road trip to aonla jungle.

Reade more

खजुराहो के मंदिर, temple of surya dev khajuraho madhya pradesh:chitragupt mandir

चित्रगुप्त मंदिर खजुराहो के प्रसिद्ध मंदिर समूह में से एक 10 वि शताब्दी का बेहद प्राचीन मंदिर है जिसे भारतीय

Reade more

बरेली का झुमका , #bareilly ka jhumka.

बरेली का झुमका NH 24  पर बरेली दिल्ली रोड पर बरेली में घुसने से ठीक पहले लगा है।

 इसका वजन करीब

Reade more

बीरबल का नाम कैसे पड़ा . Birbal

बीरबल का नाम कैसे पड़ा 

मुग़लों के बादशाह अकबर के दरबार की शान कहे जाने वाले नौ रत्नों मे से एक

Reade more

उत्तर प्रदेश 4 .0 की नयी गाईडलाईन्स आ गयी। ये कर सकेंगे आप लोग LOCKDOWN 4.0 NEW GUIDELINES OF UTTAR PRADESH

उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री जी ने lockdown 4 .0  के नयी गाइडलाइन्स  जारी कर दी है।  जो 31  मई

Reade more

अब अपने राशन कार्ड से किसी भी राज्य में राशन ले सकते हैं one nation, one rashan card

एक देश एक राशन कार्ड  कोरोना की महामारी में बहुत कुछ बदल गया । लोगों की जिंदगी , रहन सहन आदि

Reade more

zamzama cannon history in hindi,ज़मज़मा तोप

इतिहास की मशहूर "ज़मज़मा तोप "1757मे अफ़ग़ान के राजा अहमद शाह दुर्रानी के आदेश से  लाहौर मे बनना हुरु हुई थी जिसने अपने  वजीर "शाह वली खानको सबसे ताकतवर और बेहतरीन तोप बनवाने का  आदेश दिया और उसने बिलकुल वैसी ही तोप  तैयार करवाई जो बड़े से बड़े विरोधी का विनाश पलभर मे कर सकती थी और उसे नाम दिया "ज़मज़मा "जिसका मतलब होता है "शेर की दहाड़" जो की 14 फ़ीट ऊंची और 4.5  इंच लम्बी है जिसका गोला डालने वाला छेद 9.5  इंच मोटा है और इसमे 36  kg का गोला डाला जाता था । इतिहासकारों के अनुसार ज़मज़मा तोप का इस्तेमाल 1761 AD मे मराठों के विरुद्ध  पानीपत के युद्ध मे अहमद शाह दुर्रानी ने  किया था  और युद्ध के बाद भारीभरकम   ज़मज़मा को काबुल वापिस न ले जा पाने के कारण उसे लाहौर के गवर्नर "ख्वाजा उबेद" को दे दिया था । जिसके बाद 1762-1764  के आसपास ख्वाजा उबेद से भंगी समाज के राजा "हरी सिंह भंगी"ने ज़मज़मा को हथिया लिया और उसका नया नाम रख दिया "भंगियन दी तोप"जिसके बाद छत्ता खानदान के भाइयों ने चरत सिंह से इस तोप को हथिया लियाऔर उनसे 1773 -1802  AD  के बीच झंडा सिंह भंगी ने हथिया लिया

Reade more

माँ गंगा धरती पर कैसे अवतरित हुयी #maa ganga on earth. the history

माँ गंगा, जिनके चरणों में जाकर हर प्राणी पुण्य , पवित्र हो जाता है ।  धरती पर गंगा ही यह

Reade more